For the best experience, open
https://m.merisaheli.com
on your mobile browser.
Advertisement

पुरुष अपने पार्टनर से अक्सर बोलते हैं ये 7 झूठ… (Men often tell these 7 lies to their partner…)

09:39 PM Nov 09, 2022 IST | Usha Gupta
पुरुष अपने पार्टनर से अक्सर बोलते हैं ये 7 झूठ…   men often tell these 7 lies to their partner…
Advertisement
Advertisement

चेहरा कंवल है, बातें ग़ज़ल हैं, ख़ुशबू जैसी तू चंचल है…
तेरा बदन है संगेमरमर, तू एक ज़िंदा ताजमहल है…

किसी शायर ने प्यार के लिए इस कदर बात कह दी, जो प्यारा मीठा सा झूठ भी है, लेकिन दिल को लगता अच्छा भी है. झूठ बोलना कई मायनों में अच्छा भी होता है, तो बुरा भी. कभी किसी ग़लती को छुपाने के लिए तो कभी कोई आहत ना हो उसके लिए तो कभी यूं ही एंजॉयमेंट के लिए भी झूठ बोले जाते हैं. लेकिन पुरुष अमूमन अपनी पार्टनर से कुछ ख़ास तरह के झूठ अक्सर ही बोलते हैं. इन्हीं दिलचस्प झूठ पर एक नज़र डालते हैं.

तुम ही मेरा पहला और आख़िरी प्यार हो…
एक ऐसा सफ़ेद झूठ है, जो पुरुष अपनी पार्टनर से कहते ही हैं. इसकी कई वजह होती है, एक तो वे अपने साथी को ख़ुश करने के लिए, उसे यह जताने के लिए कि वो उनकी ज़िंदगी में कितनी ख़ास हैं. दूसरा महिलाओं को यह सुनकर बहुत ही अच्छा और स्पेशल फील होता है कि वे अपने पार्टनर का पहला प्यार हैं. इस कारण भी पुरुष ये झूठ कहते हैं. और यह भी वजह रहती है कि पहले प्यार की बात ही कुछ और होती है. दिलों में एक उमंग, उत्साह और जुनून पैदा करती है, तो यह झूठ काफ़ी कारगर भी सिद्ध होती है.

Advertisement

यह भी पढ़ें: 40 बातें जो हैप्पी-हेल्दी रिलेशनशिप के लिए ज़रूरी हैं (40 Tips for maintaining a happy and healthy relationship)

मैं सिगरेट, शराब नहीं पीता…
यह बहुत ही कॉमन झूठ है, जो पार्टनर से कहा जाता है, फिर भले ही वे कभी-कभार पीते रहे हों या कभी चैनस्मोकर भी रहे हों. क्योंकि लड़कियां शराब-सिगरेट पीनेवाले पुरुषों को अधिक पसंद नहीं करतीं इस वजह से भी पुरुष अपनी पार्टनर से यह बात छुपा लेते हैं कि वे ड्रिंक्स करते हैं. अगर कभी मुंह से सिगरेट की गंध आती है, स्मोकिंग को लेकर उनकी झूठ पकड़ी जाती है, तो वह साफ़ झूठ कह देते हैं कि उनके सामने कोई सिगरेट पी रहा था जिसकी वजह से वह महक आ रही है.

मेरा बढ़िया जॉब है.. सेविंग्स भी है…
अपने पार्टनर पर इंप्रेशन जमाने के लिए नौकरी और पैसों के बारे में धड़ल्ले से पुरुष झूठ बोलते हैं. भले ही उनका जॉब परमानेंट ना हो और पैसे या बचत भी अधिक ना हो, फिर भी वह खुलकर अपने साथी पर ख़र्च करते हैं और यह एहसास कराएंगे कि वे काफ़ी अच्छा-ख़ासा कमाते हैं. अपने पार्टनर को भविष्य की सुरक्षा देने की ख़ातिर ही जॉब भी अच्छी है ख़ासकर यह झूठ बोला जाता है.

मैं तो वर्जिन हूं…
यह एक ऐसा झूठ है, जो पुरुष अपने पार्टनर को मनोवैज्ञानिक रूप से प्रभावित करने के लिए कहते हैं. उनका यह मानना होता है कि एक स्त्री हमेशा ही चाहती है कि उसका पार्टनर प्योर हो, उसका किसी के साथ फिजिकल रिलेशन ना हुआ हो. स्त्रियों की इस सोच को पुरुष बख़ूबी समझते हैं और उन पर अपनी वफ़ादारी और ईमानदारी का प्रभाव जमाने के लिए यह ज़रूर कहते हैं कि आज तक उनका किसी से कोई शारीरिक संबंध नहीं रहा है. उन्होंने किसी के साथ सेक्स नहीं किया है. यह कहकर वे उन पर अपने वर्जिन होने का प्रभाव डालते हैं. अब यह और बात है कि उनके संबंध रहे हों, पर पार्टनर का दिल ना टूटे इस वजह से यह झूठ कह देते हैं.

यह भी पढ़ें: क्या आप जानते हैं आंसू बहाने में पुरुष भी कुछ कम नहीं… (Do you know even men are known to cry openly?)

मैं कुंवारा हूं…
पुरुषों की यह फ़ितरत रहती है कि वह अगर किसी रिलेशन में होने के बावजूद अपने दूसरे पार्टनर से यह साफ़ झूठ कह देते हैं कि वह सिंगल है. जबकि वे एक साथ दो-दो रिलेशन में भी रहते हैं. आए दिन ऐसे कई उदाहरण भी देखने को मिलते हैं कि पुरुष ने झूठ बोलकर दूसरी महिला से शादी कर ली बाद में पता चला कि वह पहले से ही शादीशुदा था. पुरुषों का चंचल मन उन पर इस कदर हावी रहता है कि वह कई बार यह बात भूल जाते हैं कि वह किसी और के साथ भी जुड़े हुए हैं और अपनी पार्टनर से बड़ी आसानी से यह कह देते हैं कि वे बैचलर हैं.

मैं तुम्हें ही देखता हूं और तुम्हारे बारे में ही सोचता हूं…
पुरुष जब यह देखता है कि उसकी पार्टनर उसे संशय की नज़र से देख रही है कि वह उसे ना देखकर सामनेवाली ख़ूबसूरत लड़की को देख रहा है, तब वह बड़े भोलेपन से यह कह देता है कि मैं तो वहां देखते हुए कुछ सोच रहा था और मेरी नज़र में तो केवल तुम ही तुम रहती हो… हमेशा तुम्हारे बारे में ही मैं सोचता रहता हूं… माना ये सब बातें बहुत ही फिल्मी लगती हैं, लेकिन लड़कियों को बहुत लुभाती भी हैं और उन्हें ख़ुश भी करती हैं. इस कारण भी पुरुष इस तरह की झूठ बड़ी ही चालाकी से अक्सर कहते हैं.

मैं तुम्हारे बिना जी नहीं सकता…
कई बार उम्र का तकाज़ा, वक़्त की नज़ाकत और पार्टनर का जुनून भरा प्यार देखते हुए यह बात पुरुष कह देते हैं कि मैं तुम्हारे बिना जी नहीं सकता. अब यह तो मानी हुई बात है कि कोई किसी के बगैर जी ना सके ऐसा होता नहीं, लेकिन प्यार और जुनून में अक्सर यह बातें देखी, सुनी और पढ़ी जाती हैं और ऐसा हो भी जाता है. और जब आप अपने साथी को यह कहते हैं कि आप उसके बगैर नहीं जी सकते, तब वह ख़ुद को बेहद स्पेशल महसूस करती है और उसे लगता है कि वो दुनिया की सबसे ही ख़ूबसूरत और ख़ास शख़्स है आपके लिए. इस कारण भी पुरुष उन्हें स्पेशल फील कराने के लिए यह झूठ कहते हैं कि वे उनके बिना नहीं रह सकते.

– ऊषा गुप्ता

अभी सबस्क्राइब करें मेरी सहेली का एक साल का डिजिटल एडिशन सिर्फ़ ₹599 और पाएं ₹1000 का कलरएसेंस कॉस्मेटिक्स का गिफ्ट वाउचर.

Advertisement
Tags :
×

.